लेखनी कहानी -24-Jan-2023प्रतियोगिता नदियाँ

1 भाग

249 बार पढा गया

14 पसंद किया गया

कल कल कर है बहती ये नदियाँ,!लहराती बलखाती बहती है नदियाँ,!कभी झूमती गाती अपने धुन में बहती है नदियाँ,!कभी सुनहरी धूप में चममाती बहती है नदियाँ,!इस धरा पर हर जीव जगत ...

×