लेखनी प्रतियोगिता -08-Nov-2022 हनुमत वन्दन

1 भाग

246 बार पढा गया

17 पसंद किया गया

छंद – दोधक (वार्णिक) २११ २११ २११ २२ हे बजरंग बली बलवाना। अंजनि नंदन शील निधाना।। हे दुख भंजन संकट हारी। राम प्रिये हनुमा शुभकारी।। रावण के तुम ही मद नाशी। ...

×