सौगन्ध--भाग(१)

15 भाग

396 बार पढा गया

10 पसंद किया गया

रात्रि का दूसरा पहर,आकाश में तारों का समूह अपने धवल प्रकाश से धरती को प्रकाशित कर रहा है,चन्द्रमा की अठखेलियाँ अपनी चाँदनी से निरन्तर संचालित है,चन्द्रमा बादलों में कभी छुपता है ...

अध्याय

×