"सुर्ख़ आंधी"(रुबाइ)

1 भाग

20 बार पढा गया

1 पसंद किया गया

"परबतों  की तरफ़ से  सुर्ख़  आंधी  आयेगी !  और   आबादियों   में  आग सी लग जायेगी!!  ख़ून  के  दरिया नज़र  आयेंगे    मैदानों    में ;  और  ख़ून के बू ...

×