लेखनी कविता -14-May-2022 ये मिट्टी ही सोना है

1 भाग

187 बार पढा गया

23 पसंद किया गया

रचयिता-प्रियंका भूतड़ा शीर्षक- ये मिट्टी ही सोना है इस मिट्टी से बेर मत करो, यह मिट्टी ही सोना है। इसी में हंसना इसी में गाना, इसी में हमको रोना है। इस ...

×