नन्ही उम्मीद

1 भाग

142 बार पढा गया

11 पसंद किया गया

विषय--"नन्हीं उम्मीदें" नन्हीं उम्मीदें लेकर जो चला हैं। वही आदमी जमाने में भला है।। आसमां झुका लेते हैं। धरा को उठा लेते हैं।। पथ में कांटे मिले मगर, निज कदम बढ़ा ...

×