प्रेम और विश्वास

175 भाग

15 बार पढा गया

3 पसंद किया गया

*प्रेम और विश्वास* सच्चा प्रेम अटल रहता है। कपट रहित हो सब कहता है।। इक सिद्धांत हमेशा पावन। तपते मन का शीतल सावन।। अंतस अति कोमल निर्मल है। हृदय विशाल महान ...

अध्याय

×